PPF (Public Provident Fund)अकाउंट क्या होता है पूरी जानकारी

Public Provident Fund (PPF) account :-

Public provident fund जो कि एक लोंग टर्म इन्वेस्टमेंट है इसका सबसे बड़ा बेनिफिट यह है कि की या एक रिस्क फ्री फ्री और टैक्स फ्री इन्वेस्टमेंट है लेकिन इसके साथ इसके कुछ लिमिटेशंस भी है तो इस ब्लॉग में हम हम बेनिफिट्स और लिमिटेशन दोनों के बारे में बताएंगे साथ में हम सारे फीचर देखेंगे जो बहुत जरूरी है पीपीएफ अकाउंट के लिए इनमें से कुछ फीचर्स आपको मालूम है और कुछ आपको नहीं मालूम है।

PPF अकाउंट के 3 फायदे होते हैं :-

(1) RISK FREE INVESTMENT :-

यह एक risk-free इन्वेस्टमेंट है क्योंकि यह गवर्नमेंट द्वारा होता है।

(2) TAX FREE RETURNS :-

यह एक टैक्स फ्री इन्वेस्टमेंट है यानी कि जितना भी आप इसके ऊपर इंटरेस्ट पाते हैं उसके ऊपर कोई टैक्स नहीं लगता है यानी कि जब आप 15 साल 20 साल बाद के कुछ समय के बाद पैसा निकाल लेंगे तो जितना भी आप ब्याज कमाएंगे बल्कि अगर बीच में भी आप पैसा निकाल लेते हैं तो जितना भी आप जितना भी ब्याज कमाएंगे उसके ऊपर कोई टैक्स नहीं लगता है । बल्कि हम जितने भी बाकी के इन्वेस्टमेंट जैसे कि फिक्स डिपाजिट वह भी एक risk-free इन्वेस्टमेंट है लेकिन उसके ऊपर आपको इंटरेस्ट पर टैक्स देना पड़ता है कुछ टैक्स फ्री एफडी भी होती है लेकिन उनके अंदर लॉक इन पीरियड होता है 5 साल का तो पीपीएफ अकाउंट के अंदर भी लॉक इन पीरियड जरूर होता है लेकिन यहां पर आपको इंटरेस्ट रेट एफडी से अच्छा मिलता है।

(3) TAX REBATE UNDER SECTION 80C :-

इसमें आपको टैक्स रिबेट भी मिलती है अंडर सेक्शन 80C तो डेढ़ लाख तक की इन्वेस्टमेंट पर आपको एटीसी के अंदररिबेट मिलती है तो आप पीपीएफ अकाउंट के अंदर भी डेढ़ लाख तक इन्वेस्ट कर सकते हैं और उस पूरे अमाउंट पर एटीसी के अंदर आपको टैक्स मिलेगी

पीपीएफ के फायदे :-

(1) ELIGIBILITY :-

कोई भी Resident indian individuals अकाउंट खोल सकता है और एक पर्सन एक ही अकाउंट खोल सकता है यानी कि अगर आपने एक बैंक में अकाउंट खोल लिया तो आप दूसरे बैंक में जाकर दूसरा अकाउंट नहीं खोल सकते हां अगर चाहे तो आप उसे अकाउंट को ट्रांसफर जरूर करा सकते हैं और दूसरा किसी माइनर के लिए अकाउंट खोलना चाहते हैं तो वो भी वह आप खोल सकते हैं और आप उसके अंदर भी पैसे डिपाजिट कर सकते हैं लेकिन माइनर अकाउंट को कोई पैरंट ही मैनेज कर सकता है।

(3) एन आर आई अब पीपीएफ अकाउंट नहीं खोल सकते हैं। अगर आप एन आर आई स्टेटस होने से पहले पीपीएफ अकाउंट खोल चुके हैं तो आप उसे ऑपरेट जरूर कर सकते हैं 15 साल के लिए लेकिन उसके बाद वह अपने आप खत्म हो जाएगा और वह एक्सटेंड नहीं हो सकता है।

पीपीएफ अकाउंट कहां खोल सकते हैं।

पीपीएफ अकाउंट पोस्ट ऑफिस में खोल सकते हैं या फिर जितने भी ऑथराइज्ड बैंक हैं ज्यादातर जितने भी पॉपुलर बैंक हैं चाहे आपके पब्लिक सेक्टर बैंक हो SBI, PNB, हो या प्राइवेट सेक्टर बैंक हो ICICI, HDFC Bank, AXIS Bank और IDBI Bank इन सबके अंदर भी आपने अकाउंट खोल सकते हैं ।

पीपीएफ अकाउंट के अंदर आप कितना पैसा डाल सकते हैं और वह कैसे डाल सकते हैं।

पीपीएफ अकाउंट के अंदर आप मिनिमम ₹500 से पर फाइनेंसर ईयर डिपॉजिट कर सकते हैं और मैक्सिमम आप डेढ़ लाख रुपए तक डाल सकते हैं डेढ़ लाख के ऊपर अगर आप पीपीएफ अकाउंट के अंदर पैसा डालते हैं तो उस पर आपको इंटरेस्ट नहीं मिलता।

(2) अगर आपने कोई माइनर अकाउंट खोल रखा है मान लीजीए आपके बच्चे का कोई अकाउंट है जिसे आपने खोल रखा है तो दोनों अकाउंट्स को मिलाकर ही आप डेढ़ लाख रुपए इन्वेस्ट कर सकते हैं।

पैसा कैसे डाल सकते हैं।

आप मंथली इंस्टॉलमेंट के रूप में पैसा डाल सकते हैं क्वार्टर ली डाल सकते हैं हाफ इयरली डाल सकते हैं या एनुअली भी डाल सकते हैं तो मिनिमम एक और मैक्सिमम 12 आप हर साल डाल सकते हैं यह पैसा आप कैसे भी डाल सकते हैं चेक से भी डाल सकते हैं DD से भी डाल सकते हैं या आप ऑनलाइन ट्रांसफर भी कर सकते हैं।

MATURITY PERIOD :-

क्यों कि यह एक लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट है यहां पर मिनिमम आपको 15 साल के लिए इन्वेस्ट करना होता है तो 15 साल का आपका लंबा समय होता है उसके बाद आपको आपको पांच 5 साल का समय मिल जाता है तो 5 साल में आप उसको एक्सटेंड भी करा सकते हैं ।

यहां मैं आपको एक चीज बताना चाहूंगा तो ज्यादातर लोग मिस कर देते हैं या 15 साल का जो समय है वह 15 साल का फूल फाइनेंस ईयर है मान लीजिए आपने जुलाई में अगर किसी साल में इन्वेस्ट किया तो वह वाला फाइनेंशयल ईयर नहीं गिना जाएगा अगर आप ने 1 जुलाई 2019 को इन्वेस्ट किया तो 2019-20 वाला फाइनेंशयल ईयर नहीं गिना जाएगा और आपका जो समय शुरू होगा वह 1 अप्रैल 2020 से शुरू होगा और जो खत्म होगा 15 साल का समय वह 31 मार्च 2035 में खत्म होगा

INTEREST :

यसपीपीएफ में कितना इंटरेस्ट मिलता है बीएफ में 8 परसेंट का इंटरेस्ट मिल रहा है पर यह बदलता रहता है यह इंटरेस्ट रेट मार्केट के ऊपर निर्भर करता है और यह जो इंटरेस्ट रेट है यह सेंट्रल गवर्नमेंट निर्धारित करती है 15 साल की बात करे थे 7:30 से लेकर 9% तक बदला है।

Read More click here 👇👇👇👇

Bonds क्या होते हैं What is Bonds ? इसमें इन्वेस्टमेंट कैसे कर सकते हैं

जानिए SIP के बारे में सब कुछ SIP क्या है SIP काम कैसे करता है ?

आज हमने सीखा

मैं आशा करता हूँ आप लोगों को (PPF अकाउंट क्या होता है पूरी जानकारी) के बारे में समझ आ गया होगा. मेरा आप सभी पाठकों से गुजारिस है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Share करें, जिससे की हमारे बिच जागरूकता होगी और इससे सबको बहुत लाभ होगा.

मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी जानकारी आप लोगों तक पहुंचा सकूँ.लेकिन फिर भी अगर आपको हमारी इस पोस्ट मे PPF अकाउंट क्या होता है पूरी जानकारी in hindi में कहीं कोई कमी दिखाई दे तो कृपया कमेंट बॉक्स में अपनी राय दे और हमें उस कमी को सुधारने में मदद करें ,धन्यवाद यदि आपको मेरा यह लेख अच्छा लगा हो या इससे आपको कुछ सिखने को मिला हो तब अपनी प्रसन्नता को दर्शाने के लिए कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

Leave a Comment